लग्न-राशी फल : वैज्ञानिक और विश्वसनीय

पूरे आसमान के 360 डिग्री को जब 12 भागों में विभक्त किया जाता है , तो उससे 30-30 डिग्री की एक राशी निकलती है। इन्हीं राशियों को मेष , वृष—————-मीन कहा जाता है। किसी भी जन्मकुंडली में तीन राशियों को महत्वपूर्ण माना जाता है। राशी , जिसमें जातक का सूर्य स्थित हो, वह सूर्य-राशी के रुप में, जिसमें जातक का चंद्र स्थित हो, वह चंद्र-राशी के रुप में तथा जिस राशी का उदय जातक के जन्म के समय पूर्वी क्षितीज मे हो रहा हो , वह लग्न-राशी के रुप में महत्वपूर्ण मानी जाती है। आजकल बाजार में लगभग सभी पति्रकाओं में राशी-फल की चर्चा रहती है, कुछ पत्रिकाओं में सूर्य-राशी के रुप में तथा कुछ में चंद्र-राशी के रुप में भविष्यफल का उल्लेख रहता है , किन्तु ये पूर्णतया अवैज्ञानिक होती हैं और व्यर्थ ही उसके जाल में लाखों लोग फंसे होते हैं। इसकी जगह लग्न-राशी फल निकालने से पाठकों को अत्यधिक लाभ पहुंच सकता है , क्योंकि जन्मसमय में लगभग दो घंटे का भी अंतर हो तो दो व्यक्ति के लग्न में परिवर्तन हो जाता है, जबकि चंद्रराशी के अंतर्गत ढाई दिन के अंदर तथा सूर्य राशी के अंतर्गत एक महीनें के अंदर जन्मलेनेवाले सभी व्यक्ति एक ही राशी में आ जाते हैं। लेकिन चूंकि पाठकों को अपने लग्न की जानकारी नहीं होती है, इसलिए ज्योतिषी लग्नफल की जगह राशी-फल निकालकर जनसाधारण के लिए सर्वसुलभ तो कर देते हें , पर इससे ज्योतिष की वैज्ञानिकता पर प्रश्नचिन्ह लग जाता है। किसी प्रकार की सामयिक भविष्यवाणी किसी व्यक्ति के लग्न के आधार पर सटीक रुप में की जा सकती है , किन्तु इसकी तीव्रता में विभिन्न व्यक्ति के लिए अंतर हो सकता है। किसी विशेष महीनें का लिखा गया लग्न-फल उस लग्न के करोड़ों लोगों के लिए वैसा ही फल देगा , भले ही उसमें स्तर , वातावरण , परिस्थिति और उसके जन्मकालीन ग्रहों के सापेक्ष कुछ अंतर हो। जैसे किसी विशेष समय में किसी लग्न के लिए लाभ एक मजदूर को 25-50 रुपए का और एक व्यवसायी को लाखों का लाभ दे सकता है। इस प्रकार की भविष्यवाणी `गत्यात्मक गोचर प्रणाली´ के आधार पर की जा सकती है। इस महीनें से हर महीने विभिन्न लग्नवालों के लिए लग्न-राशी फल की चर्चा की जाएगी, जिन्हें अपने लग्न की जानकारी न हो , वे अपनी जन्म-तिथि , जन्म-समय और जन्मस्थान के साथ मुझसे संपर्क कर सकते हैं। उन्हें उनके लग्न की जानकारी दे दी जाएगी।

Advertisements

About संगीता पुरी

नाम - संगीता पुरी , उम्र - 42 वर्ष , पढ़ाई - रांची विश्वविद्यालय से एम ए (अर्थ शास्त्र ) , विवाह - १२ मार्च १९८८ को पति - श्री अनिल कुमार ( डी वी सी में कार्यरत ), पुत्र - दो विपुल और विभास , दोनों डी पी एस बोकारो मैं विद्यार्थी , पता - ९४ , को-operative कॉलोनी ,बोकारो स्टील सिटी रूचि - ज्योतिष का गम्भीर अध्ययन-मनन करके उसमे से वैज्ञानिक तथ्यों को निकलने में सफ़लता पाते रहना , जो सिक्षा मुझे मेरे पिताजी ने डी है . प्रकाशित पुस्तकें - १. गत्यात्मक ज्योतिष : ग्रहों का प्रभाव . प्रकाशित लेख - the astrological मैगज़ीन , बाबाजी ,ज्योतिष-धाम आदि में . E-mail - gatyatmak_jyotish@yahoo.co.in
यह प्रविष्टि लग्न-राशी फल में पोस्ट की गई थी। बुकमार्क करें पर्मालिंक

15 Responses to लग्न-राशी फल : वैज्ञानिक और विश्वसनीय

  1. hariraam कहते हैं:

    सही कहा आपने। यहाँ भी सिर्फ लग्नकुण्डली के आधार पर कई प्रश्नों का उत्तर तत्काल दे देते हैं कुछ ज्योतिषी।

    आप जन्मकुण्डली निकालने के लिए किस Astrology software का उपयोग करती हैं? क्या यह open source या निःशुल्क है?

  2. Pawan कहते हैं:

    शास्त्रों ने तो गोचर विचार के लिए चन्द्र राशि को ही सही माना है। हालांकि कहीं-कहीं कहा गया है कि लग्न, चन्द्र या सूर्य में जो बली हो, उसका विचार करना चाहिए, ऐसा भी लिखा है। यदि लग्न इसलिए श्रेष्ठ है क्योंकि वह दो घंटे की है तो शनि, राहु, केतु और गुरु का गोचर में विचार ही नहीं करना चाहिए, क्योंकि ये तो बहुत लम्बे समय तक एक ही राशि में बने रहते हैं?

  3. संगीता पुरी कहते हैं:

    हरिरामजी , मैंने जन्मकुंडली बनने के लिए अपना ख़ुद का software बनाया है , जिसमें गत्यात्मक ज्योतिष के अनुसार पुरे जीवन के उतर चढ़ाव का ग्राफ और भाविश्यफाल लिखा होता है. यह अभी मेरे कंप्यूटर में ही है , बाज़ार में अभी तक नहीं आया है .
    pawanji, मैंने यह नहीं कहा कि शनि , बृहस्पति या अन्य ग्रहों के गोचर कि चल को नहीं देखना चाहिए , पर उनके भावों का निर्धारण लग्न के आधार पर ही होना चाहिए . मेष लग्न वालों का शनि दशम और एकादश भव का स्वामी है ,इसलिए शनि के अनुसार इन संदर्भों के किसी प्रॉब्लम या खुशी को वे ढाई वर्ष तक लगातार महसूस करेंगे , परन्तु हमारे हिसाब से गत्यात्मक और स्थैतिक उर्जा में विभिन्नता के कारन वे फल के तीव्रता में अन्तर पाएंगे . आपने पहले भी कहा था कि गत्यात्मक ज्योतिष से एकरूपता मैं और अन्तर हो सकता है . मैं किन्ही कारणों से आपकी बैटन का जबाब नहीं दे पायी थी , ओक्स्ताव में बात यह है कि यदि एक परंपरागत ज्योतिषी गुरू हज़ार शिष्यों को ज्योतिष कि सिक्षा दें , तो उनके सभी शिष्य एक जैसा forecast नहीं कर सकते हैं , जबकि एक गत्यात्मक ज्योतिष का गुरू अपने लाखों शिष्यों को ज्ञान दे , तो लाखों एक जैसा ही forecast करेंगे ,

  4. ashok tiwari कहते हैं:

    DOB..14/07/1973
    time……..8:00am
    please all birth dettles send the my id lagn

  5. sameer कहते हैं:

    mohinder kumar date of birth 19-2-1962 ferozepur punjab time 4.30am

  6. Ritesh Ranjan Kumar कहते हैं:

    Ritesh Ranjan Kumar
    Date of Birth- 02.04.1979
    Place:-Monghyr (Bihar)
    Time:- 6.00 (Approx)

  7. Manoj pandey कहते हैं:

    DOB : 17-04-1978
    TIME: 23:30 (About)
    DOP: KOLAYAT (RAJASTHAN)

    please send me details of my future

  8. gurdeep singh कहते हैं:

    mera janam 24nov1978 ko 9:30am ko sagar mp meai hoya tha
    kerpa mare aage wale time kya hain aur mera economic time kya hain

  9. Rajeev Kumar Joshi कहते हैं:

    my details are :

    Name: Rajeev Kumar Joshi
    date of Birth :17-12-1968
    Time of Birth : 07.15 A.M.
    Place of Birth : dadri, U.P.
    country : India,

    kya koi hai jo mujhe bata sake ki mai kab , or kaise accha paisa kama sakta hun, par immandaari se.?

  10. dhiraj kumar jha कहते हैं:

    When I shall have a gov. job.

    Dhiraj Kumar Jha

  11. Murli Manohar Singh कहते हैं:

    Date Of Birth : 29-April-1971 , Time : 01:55 AM ,
    Birth Place : Singhia , District : Samastipur , State :Bihar
    Sir
    I am very hopeless from last 7-8 month , Kindly tell me about my future & present time and also give the solution
    regards
    Murli Manohar Singh

  12. mohit कहते हैं:

    Name – mohit
    Birth- 16 November 1983
    Time- 6:30 Pm
    City- Meerut (UP)
    Mere Bhavishya ke bare Main Kuch Bataiye.

  13. Pooja कहते हैं:

    Name – Pooja
    Birth – 16 July 1992
    Time – 08.30 am
    Place of birth – nadon (HP)
    country – India
    kya koi bata sakta hai ki meri kismat me kitna paisa hai

  14. SACHIN कहते हैं:

    ME KIYA KARU KI JADA SE JADA PESA KAMAU

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s